HomeLoanएमएसएमई क्या है? | MSME के लिए LOAN कैसे प्राप्त करें?

एमएसएमई क्या है? | MSME के लिए LOAN कैसे प्राप्त करें?

एमएसएमई क्या है?

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग (MSME) अपने देश में रोजगार एवं अर्थव्यवस्था की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण कड़ी है। सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विकास बिल- 2005 (जो 12 मई, 2005 को संसद में प्रस्तुत किया गया था) को राष्ट्रपति द्वारा स्वीकृति मिलने के बाद msme-2006 अधिनियम बना दिया गया। इस अधिनियम को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विकास अधिनियम, 2006 नाम दिया गया है।

एमएसएमई क्या है? | MSME के लिए LOAN कैसे प्राप्त करें?
एमएसएमई क्या है? | MSME के लिए LOAN कैसे प्राप्त करें?

MSME एक उद्यम सेक्टर है। यह सेक्टर दो तरह का है।
1- सर्विस सेक्टर
2- विनिर्माण यानी मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर।

जिस सेक्टर में सेवा प्रदान करने का काम होता है वह सेक्टर सर्विस सेक्टर कहा जाता है और जिस सेक्टर में प्रोडक्ट बनाने का काम होता है उसे मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर के नाम से जाना जाता है।

एमएसएमई की परिभाषा क्या है?

MSME की परिभाषा निम्नलिखित हैः

सूक्ष्म उद्योग की परिभाषा

1 करोड़ तक इन्वेस्टमेंट और 5 करोड़ तक के टर्नओवर वाले उद्योग को सूक्ष्म उद्योग यानी माइक्रो इंटरप्राइ का दर्जा दिया गया है।मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस दोनों सेक्टर।

लघु उद्योग की परिभाषा

10 करोड़ तक का इन्वेस्टमेंट और 50 करोड़ के टर्नओवर वाले इंटरप्राइज को स्मॉल यूनिट (लघु उद्योग) माना गया है।मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस दोनों सेक्टर।

मध्यम उद्योग की परिभाषा

30 करोड़ तक का इन्वेस्टमेंट और 100 करोड़ के टर्नओवर वालों को मीडियम इंटरप्राइज (मध्यम उद्योग) माना गया है।मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस दोनों सेक्टर

MSME Loan: सरकारी योजना के तहत माइक्रो, स्माल और मीडियम एंटरप्राइज को 50 हजार से 2 करोड़ तक का बिज़नेस लोन दिया जाता है|

लोन राशि कितनी होगी – यह MSME Schemes और लोन लेने वाले पर निर्भर करता है|

जैसे, मुद्रा योजना में आप तीन तरह के लोन ले सकते है –

  1. शिशु ऋण ₹50,000
  2. किशोर ऋण ₹50,000 से ₹5 लाख
  3. तरुण ऋण में ₹5 लाख से ₹20 लाख

वही CGTMSE Scheme में आपको 2 करोड़ तक का लोन प्रदान किया जाता है।

मोबाइल से इंस्टेंट लोन कैसे ले? | 5 Best Instant Loan Apps In India

MSME लोन की विशेषताएं और लाभ

MSME यानी सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों की लघु और दीर्घकालिक व्यावसायिक जरूरतों को पूरा करने के लिए जो बिजनेस लोन प्रदान किया जाता है उस लोन को MSME लोन कहते हैं।

MSME लोन के माध्यम से एमएसएमई सेक्टर के बिजनेस अपनी कार्यशील पूंजी (वर्किंग केपिटल), पूंजीगत व्यय (केपिटल एक्सपेंडिचर) और गैर-निधि (नॉन-फंड) जैसी आवश्यकताओं को पूरा करता है।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि देश की प्रमुख एनबीएफसी ZipLoan से एमएसएमई सेक्टर के कारोबारियों को 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन, बिना कुछ गिरवी रखें, सिर्फ 3 दिन* में प्रदान किया जाता है।

MSME Loan Eligibility
1. व्यक्ति भारतीय नागरिक हो|
2. उम्र 25 से 66 वर्ष तक मान्य है|
3 बिज़नेस कम से कम 3 वर्ष पुराना होना चाहिये|
4. Self-employed व्यक्ति भी आवेदन कर सकते है – Professionals &Non-professionals
5. साथ ही निम्न भी अप्लाई कर सकते है –Partnerships Limited liability Partnerships Private limited✧ Closely held limited companies
MSME Loan Eligibility

एमएसएमई लोन के लिए जरुरी कागजी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • सरकार द्वारा जारी कोई एक पहचान प्रमाण पत्र
  • सरकार द्वारा जारी कोई एक निवास पहचान प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण
  • पैन कार्ड
  • पिछले 12 महीनों का बैंक स्टेटमेंट
  • बिजनेस रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • अगर बिजनेस पहले से चल रहा है तो पिछले 2 वर्षों की प्रॉफिट एंड लॉस की बैलेंस शीट कॉपी
  • जीएसटी सर्टिफिकेट
  • नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC)

किस योजना में एमएसएमई लोन मिलता है?

MSME लोन के द्वारा केन्द्र सरकार का प्रयास है कि देश में स्वरोजगार का माहौल खड़ा किया जाये। इसी के चलते तमाम ऐसी योजनाएं सरकार द्वारा संचालित की जा रहीं हैं जिसमें एमएसएमई लोन दिया जाता है। जिन सरकारी लोन योजनाऔं में एमएसएमई लोन मिलता है, वह योजनाएं निम्न हैः

  • प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना
  • क्रेडिट गारंटी फण्ड ट्रस्ट (सीजीटीएमएसई)
  • प्रधानमंत्री एम्प्लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम (पीएमईजीपी)
  • महिला उद्यमी योजना
  • माइक्रो – क्रेडिट योजना
  • मुद्रा कार्ड
  • क्रेडिट गारंटी फण्ड
  • इक्विपमेंट फाइनेंस योजना

इन सभी योजनाओं के तहत एमएसएमई लोन प्राप्त किया जा सकता है। इसी के साथ बता दें कि अगर आप अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए बिजनेस लोन लेना चाहते हैं तो आपको ZipLon से 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन, बिना कुछ गिरवी रखे, सिर्फ 3 दिन* में मिल सकता है।

Leave a Comment